ऑटोमोबाइलताजा खबरेबिजनेस

इलेक्ट्रिक स्कूटर में आग लगने की वजह

इलेक्ट्रिक व्हीकल्स में आग लगने की घटनाओं पर अब सरकारी समिति की रिपोर्ट सामने आई है जिसमें आग लगने की वजह बताई गई है। इस समिति का गठन पिछले महीने ओकिनावा ऑटोटेक, बूम मोटर, प्योर ईवी, जितेंद्र ईवी और ओला के ई-स्कूटर में आग और बैटरी विस्फोट को देखते हुए किया गया था।

समिति ने अपनी जांच में इलेक्ट्रिक व्हीकल्स की लगभग सभी बैटरी सेल व डिजाइन में खामियां पाई हैं। इस खामी की वजह से ही इलेक्ट्रिक व्हीकल्स में आग लगने की घटनाएं सामने आई हैं। तेलंगाना में हुए जानलेवा व्हीकल में लगी आग की वजह भी बैटरी में समस्या को बताया गया है। इलेक्ट्रिक व्हीकल्स में आग लगने की घटनाओं को देखते हुए एक्स्पर्ट्स अब अपने व्हीकल्स में बैटरी से जुड़े मुद्दों को हल करने के लिए ईवी मैन्युफैक्चरर के साथ इंडिविजुअल रूप से काम करेंगे।

मानव जीवन की सुरक्षा सरकार की पहली प्रायोरिटी

सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने भी इसपर चिंता जाहिर की। उन्होंने कहा कि अभी देश में

वाहन उद्योग की शुरुआत है और इस तरह की घटनाएं उद्योग में बाधा डाल सकती हैं। सरकार ऐसी कोई

लापरवाही नहीं चाहती है क्योंकि हर एक मानव जीवन की सुरक्षा सरकार की पहली प्रायोरिटी है।

तेलंगाना में इलेक्ट्रिक टू-व्हीलर की बैटरी फटने से 80 साल एक व्यक्ति की मौत हो गई थी और दो अन्य

घायल हुए थे।

इलेक्ट्रिक ओला ग्लोबल एजेंसियों से जांच करवाएगी

वहीं, ओला इलेक्ट्रिक ने अपने एक बयान में एक न्यूज एजेंसी से कहा, ‘हमने अपनी जांच के अलावा विश्व स्तरीय

एजेंसियों को मूल कारण पर आंतरिक मूल्यांकन करने के लिए कहा है।’
कंपनी ने ये भी जानकारी दी कि ऑल इलेक्ट्रिक ने पहले ही स्वेच्छा से 1441 व्हीकल्स को वापस ले चुकी

है ताकि इन सभी की पहले ही पूरी जांच की जा सके।

ओकिनावा ने अपने 3,000 से ज्यादा स्कूटरों को रिकॉल किया

टीवी न्यूज चैनल में दिए इंटरव्यू में आग लगने की घटनाओं पर नीति आयोग के CEO अमिताभ कांत ने कहा

था कि ओरिजिनल इक्विपमेंट मैन्युफैक्चरर (OEMs) को हाल ही में हुई एक्सीडेंट में शामिल बैचों को रिकॉल करना चाहिए

इसके बाद ओकिनावा ने 16 अप्रैल को अपने 3,000 से ज्यादा स्कूटरों को वापस बुलाने का फैसला किया

इलेक्ट्रिक व्हीकल्स पर आग लगने की घटनाएं

  • 9 अप्रैल को शाह समूह के जितेंद्र इलेक्ट्रिक व्हीकल्स के 40 इलेक्ट्रिक स्कूटरों में नासिक में एक ट्रांसपोर्ट कंटेनर में आग लग गई।
  • 26 मार्च को पुणे के धनोरी इलाके में ओला इलेक्ट्रिक के S1 प्रो मॉडल और तमिलनाडु के वेल्लोर में ओकिनावा के प्रेज प्रो मॉडल में आग लगने की घटना हुई।
  • 28 मार्च को तमिलनाडु के त्रिची से भी एक घटना की सूचना मिली थी।
  • 29 मार्च को चेन्नई में एक अन्य घटना की सूचना मिली थी, जहां प्योर ईवी के एक इलेक्ट्रिक स्कूटर में आग लग गई थी।
Share With Your Friends If you Loved it!