breaking newslatestखेलताजा खबरेराष्ट्रीय

मोहित ग्रेवाल ने भारत को दिलाया एक और पदक, विरोधी को चित कर जीता कांसा

कुश्ती में भारत के हिस्से एक और पदक आया है. पुरुषों के 125 किलोग्राम भारवर्ग में मोहित ग्रेवाल ने जमैका के जॉनसन को मात देकर कांस्य पदक अपने नाम किया है. भारत का ये दिन का कुश्ती में दूसरा कांस्य पदक है. मोहित से पहले महिला पहलवान दिव्या काकरान ने कांसा जीता था.

मोहित ने अच्छी शुरुआत की और एक अंक ले लिया. इसके बाद उन्होंने दो अंक का दांव लगाया और स्कोर 3-0 कर लिया. मोहित ने फिर उन्हें बाहर कर एक अंक और ले लिया और फिर मोहित ने जॉनसन को चित कर कांस्य पदक अपने नाम कर लिया.

ऐसा रहा मोहित का सफर

मोहित ग्रेवाल साइप्रस के एलेक्सियोस काओस्लिडिस को हराकर 125 किग्रा फ्रीस्टाइल के सेमीफाइनल में पहुंचे लेकिन उन्हें कनाडा के अमरवीर धेसी से 2-12 से हार का सामना करना पड़ा जिससे वह रेपेशाज खेले. कांस्य पदक के मुकाबले में उन्हें जिस तरह के प्रदर्शन की उम्मीद थी उन्होंने वैसा ही किया. अपने दमदार खेल से उन्होंने कांस्य पदक जीता.

शानदार रहा दिन

ये भारत का इन खेलों में शुक्रवार को कुश्ती में छठा पदक है. इस दिन भारत के छह पहलवान मैट पर उतरे थे और सभी पदक जीतने में सफल रहे. बजरंग पुनिया, दीपक पुनिया और साक्षी मलिक ने देश की झोली में स्वर्ण पदक डाले तो वहीं अंशु मलिक सोने के तमगे से चूक गईं. उन्हें रजत पदक से संतोष करना पड़ा. दिव्या ने कांस्य जीता और दिन के आखिरी मुकाबले में मोहित भी कांसा जीतने में सफल रहे.

ऐसा है पदक तालिका का हाल

मोहित के पदक के बाद भारत की स्थिति देखी जाए तो काफी बेहतर है. पदक तालिका में भारत पांचवें नंबर पर है. उसके हिस्से नौ स्वर्ण पदक हो गए हैं. रजत पदक की संख्या भारत के खाते में आठ है जबकि 10 कांस्य पदक भारत के हिस्से आए हैं. पहले नंबर पर ऑस्ट्रेलिया है. उसके हिस्से 50 स्वर्ण पदक, 43 रजत पदक और 44 कांस्य पदक हैं. इंग्लैंड की टीम दूसरे स्थान पर है. उसके नाम 46 स्वर्ण पदक, 44 रजत पदक और 36 कांस्य पदक हैं. कनाडा तीसरे स्थान पर है. उसके हिस्से 19 स्वर्ण पदक, 24 रजत और इतने ही कांस्य पदक हैं. चौथे पर न्यूजीलैंड है. उसके हिस्से 16 स्वर्ण पदक, 10 रजत पदक और 13 कांस्य पदक हैं.

Share With Your Friends If you Loved it!