आरोग्यताजा खबरेमहाराष्ट्र

ओमिक्रॉन का महाराष्ट्र पर बड़ा खतरा: विदेश से ठाणे लौटे 100 से ज्‍यादा लोग लापता

इन यात्रियों के बारे में कुछ भी पता नहीं चल पा रहा है और लगभग सभी के नंबर बंद आ रहे हैं। कल्याण डोम्बिवली म्यूनिसिपल कॉरपोरेशन (KDMC) के प्रमुख विजय सूर्यवंशी ने कहा कि विदेश से ठाणे जिले में आए 295 विदेशी यात्रियों में से 109 यात्रियों का कुछ भी पता नहीं चल पा रहा है।

सूर्यवंशी ने बताया कि इनमें से कुछ लोगों के मोबाइल फोन बंद थे, जबकि कइयों के अंतिम दिए गए कई पते भी गलत मिले हैं। इन्हें ट्रेस नहीं करने की वजह से संक्रमण का खतरा लगातार बना हुआ है।

बाहर से आने वालों को 7 दिनों के लिए किया जा रहा क्वारैंटाइन

सूर्यवंशी ने आगे कहा कि KDMC में ‘एट रिस्क’ देशों से आने वाले सभी लोगों को 7 दिनों के लिए क्वारैंटाइन किया जा रहा है। इस बीच उनका दूसरे, पांचवें और 8 वें दिन का आरटी-पीसीआर टेस्ट करवाया जा रहा है। नेगेटिव आने के बावजूद उन्हें होम क्वारैंटाइन में रखा जा रहा है।

हमने सभी हाउसिंग सोसाइटीज के पदाधिकारियों को यह जिम्मेदारी दी है कि वे क्वारैंटाइन के नियमों का कड़ाई से पालन करवाएं। इसके आलावा सभी सोशल गैदरिंग और शादी समारोह पर भी नजर रख रही है।

Share With Your Friends If you Loved it!